Category: Politics

रिया चक्रवर्ती से तीन दिन के पूछताछ के बाद ड्रग पैडलिंग, और सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस के मामले में NCB ने किया गिरफ्तार

बॉलीवुड से अभी सबसे बड़ी खबर आ रही है कि रिया चक्रवर्ती  को  ड्रग पैडलिंग और  कई गंभीर आरोप लगाए गए थे। जिसके कारण आज 3 दिनों के पूछताछ के बाद आज NCB ने गिरफ्तार कर लिया है।बताया जा रहा है कि अब रिया तो गिरफ्तार हो ही गई है अब गिरफ्तारी के बाद रिया का मेडिकल टेस्ट और कोरोना टेस्ट दोनों करवाया जाएगा। सूत्रों के अनुसार जानकारी मिली है कि आज 7:30 बजे रिया को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा  कोर्ट में पेश कर दिया जाएगा।

गूगल इमेज

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि NCB को लग रहा है कि पिछले कुछ दिनों से जो रिया चक्रवर्ती जानकारी दे रही है वह बहुत ज्यादा है इसीलिए रिया चक्रवर्ती से आगे कोई भी पूछताछ नहीं किया जाएगा। NCB के ऐसा करने पर होगा ये कोर्ट अपनी तरफ से ही ज्युडिशियल कस्टडी अपनी तरफ से तय करने वाला है।आगे यह भी हो सकता है कि  रिया के वकील सतीश मानशिंदे जमानत की अर्जी भी दे सकता है।

बताया जा रहा है कि पहले दिन ही रिया चक्रवर्ती से NCB ने 6 घंटे तक लगातार पूछताछ की किया था। उसके बाद भी एनसीपी ने रिया चक्रवर्ती का पीछा नहीं छोड़ा और दूसरे दिन भी लगातार  8 घंटे तक रिया से  पूछताछ किया।और  आज तीसरे दिन 3 घंटे तक रिया चक्रवर्ती से पूछताछ करने के   बाद NCB ने रिया चक्रवर्ती आखिरकार गिरफ्तार कर  ही लिया।

 जैसा कि हम सभी जानते हैं सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस मामला इतना दिन से चल रहा था पर  कुछ सही से सामने नहीं आ रहा था। अब जाकर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में ये अब तक की सबसे बड़ी गिरफ्तारी बताई जा रही है। लेकिन इसमें एक बात ये भी है कि ये गिरफ्तारी ड्रग पैडलिंग मामले में है।

खबरों की माने तो बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड मामले में रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी का इंतजार  सुशांत सिंह के फैंस बहुत दिनों से कर रहे थे। जैसा कि हम सभी ने देखा था कि सुशांत सिंह केस  में सीबीआई को रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार करने की बात कही जा रही थी। लेकिन इस बीच में एक दूसरा ही मोड़ आ गया जिसमें  ड्रग एंगल आने के बाद से इस केस में NCB की एंट्री हुई थी। जिसमें सबसे पहले  ड्रग का व्यापार करने के मामले में रिया के भाई शोविक चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया गया था।अब ड्रग के मामले में रिया चक्रवर्ती को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

बंगाल के दक्षिण 24 परगना में बीजेपी महिला कार्यकर्ता के घर में घुसकर किया मारपीट, TMC पर आरोप

जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल मे  भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं पर बार-बार हमले हो रहे हैं। ये हमले थमने का नाम ही नहीं ले रहा है।  ये खबर बंगाल  राज्य के दक्षिण 24 परगना से  है। बताया जा रहा है की जहां पर एक बीजेपी महिला कार्यकर्ताओं को गोली मार दिया गया है। बीजेपी महिला कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल बताई जा रही है और उन्हें आनन-फानन में  अस्पताल मे  भर्ती करवा दिया गया है। जहां पर बीजेपी महिला कार्यकर्ता का इलाज चल रहा है।

उसके बाद इस बात की जानकारी तुरंत ही पुलिस को दी गई और पुलिस  ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता के महिला विंग की नेता को राज्य के दक्षिण 24 परगना जिले में कुछ अज्ञात अपराधियों ने गोली मार दिया है। उसके बाद पुलिस ने ये भी  कहा कि हम इस मामले की जांच अच्छी तरीके से कर रहे हैं और जल्द ही अज्ञात अपराधियों को हम गिरफ्तार भी कर लेंगे।

 इस पीड़ित महिला बीजेपी कार्यकर्ता  की पहचान राधारानी नस्कर के रूप में कीया गया है।  बताया जा रहा है की ये महिला  दक्षिण 24 परगना जिले के बिष्णुपुर इलाके में बूथ समिति की उपाध्यक्ष और भारतीय जनता पार्टी और महिला मोर्चा समिति की कैशियर  है।

बताया जा रहा है कि पीड़ित महिला के पति अरुण नस्कर बिष्णुपुर में भाजपा के स्थानीय बूथ समिति के अध्यक्ष हैं। लोगों के जानकारी के अनुसार  तृणमूल कॉन्ग्रेस समर्थक सशस्त्र बदमाशों का एक समूह पीड़ित महिला के पति अरूण जो कि भाजपा के स्थानीय  बूथ समिति के अध्यक्ष हैं। उनको खोजते हुए उनके घर में घुस गया भगवान की दया से उस समय उनके पति अरुण घर में नहीं थे। जब महिला बीजेपी कार्यकर्ता ने शोर मचाया तब  बदमाशों ने  राधारानी की पिटाई की और सिर के पिछले हिस्से में गोली मारकर घायल कर दिया। 

खबर सामने आ रही है कि इससे पहले भी भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले किए गए थे। बताया जा रहा है कि पश्चिम बंगाल के कलना के पास पथर घाटा में एक भाजपा कार्यकर्ता रॉबिन पॉल रहता था जिसे कुछ दिन पहले पीट-पीटकर मार दिया गया था।

 उसके बाद रॉबिन पॉल के परिवार वालों ने बताया कि  उनके घर के सामने मनरेगा के तहत काम चल रहा था और मनरेगा के करमचारी वहां पर खड़े होकर पेड़ कटवा रहे थे। इस बात पर रॉबी ने  उन लोगों को  रोका  उसके बाद दोनों के बीच बहस बाजी छीङ गई और कुछ ही देर में मारपीट होना शुरू हो गया।

इस मौके पर तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के लगभग 50 से अधिक कार्यकर्ता वहां पर एक साथ जमा हो गए और वो सब  इकट्ठा हो कर  रॉबिन की लिंचिंग कर दीया।

उसके बाद तृणमूल कॉन्ग्रेस के सभी कार्यकर्ता ने मिलकर रॉबिन को  बहुत मारा उसके बाद रॉबिन को बहुत सारे गांव में ले जाकर  घुमाने लगा।  उसके बाद वहाँ के  टीएमसी के डिप्टी चीफ ने उसके साथ जम कर मारपीट कीया। रॉबिन के परिवार वाले ने उन लोगों पर आरोप लगाया कि जब रॉबिन को उसकी बेटी ने पानी देने का प्रयास किया तो तृणमूल कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उसे पानी नहीं देने दिया। उसके बाद तृणमूल कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं ने रॉबिन की बेटी को धमकाया और कहा कि अगर तुम अपने पिता की मदद करोगी तो  जो हाल हमने तुम्हारे पिता का किया है। वही हाल तुम्हारा भी करेंगे।

BJP सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम को दी ये सलाह,विदेशी दौरा खत्म कर लौटे विदेश मंत्री

सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि अभी फिलहाल एलएसी का हालात बहुत दिनों से तनावपूर्ण बना हुआ है। बताया जा रहा है कि बीती रात चीनी सेना ने अचानक से लदाख पर  फायरिंग कर दिया है। इस तरह तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी  ने  कहा कि हम चीन से बातचीत क्यों कर रहे हैं? हमें बिल्कुल ही चीन से   बातचीत नही करनी चाहिए। रहे हैं? दरअसल, बताया जा रहा है कि विदेश मंत्री जयशंकर 10 सितंबर को मॉस्को में शंघाई सहयोग संगठन  होने वाला है।जिसमे  विदेश मंत्रियों की बैठक से इतर वांग से मील भी  सकते हैं।

BJP सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने  अपने ट्वीट में लिखा है की “विदेश मंत्री जयशंकर को मॉस्को में अपने चीनी समकक्ष से क्यों मिलना है? आखिरकार क्या बात है? खासतौर पर रक्षा मंत्रियों से मुलाकात के बाद? उन्होंने ये भी कहा है कि 5 मई 2020 के बाद से भारत के पास चीन से विदेश नीति पर कोई वाद- विवाद सुलझाने की अब कोई जरूरत नहीं है।इस बात को लेकर BJP सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि  पीएम नरेंद्र मोदी को विदेश मंत्री से अपना दौरा अब कैंसिल करने के लिए  बोल देना चाहिए। क्योंकि ये हमारे संकल्प को कम करता है।

गूगल इमेज

उसके बाद चीन के विदेश मंत्री वांग यी के मॉस्को के साथ बातचीत हुई उससे पहले  सोमवार को  विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बताया है  कि चीन के साथ सीमा पर जो गंभीर स्थिति बनी हुई है उसको पड़ोसी देश के साथ समग्र रिश्तों की स्थिति से अलग करके कभी नहीं देखा जाऐगा।

 उसके बाद विदेश मंत्री ने कहा है कि अभी जो पूर्वी लद्दाख के हालात है। वो बहुत ज्यादा गंभीर है और उन्होंने  ये भी कहा है कि ऐसी स्थिति में दोनों पक्षों के बीच राजनीतिक स्तर पर बहुत सोच समझकर विचार विमर्श करने की जरूरत है।

 खबर सामने आ रही है कि 15 जून को पूर्वी  लद्दाख की गलवान घाटी  में जो संघर्ष हुआ था उसमें 20 भारतीय सैनिक  मारे गए थे उसके बाद वास्तविक नियंत्रण  रेखा पर काफी ज्यादा तनाव भी बढ़ गया था। इस संघर्ष में कुछ चीनी जवान भी मारे गए थे। लेकिन पड़ोसी देश ने  चीनी जवानों का ब्योरा नहीं दिया था। लेकिन कुछ दिन बाद अमेरिका के एक खुफिया  एजेंसी के अनुसार बताया जा रहा है कि चीन के 35 जवान मारे गए थे।

अमित शाह ने भारत की बेटी के वचनों का रखा मान, मुंबई पुलिस और संजय रावत की जुबानी जंग को देखते हुए, कंगना रनौत को Y श्रेणी की सुरक्षा देने का किया फैसला

ये खबर   बॉलीवुड और राजनीति दोनो  से जुड़ी हुई है। जहां पर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और राजनीतिक से शिवसेना संजय रावत के बीच कुछ दिनों से काफी बहस बाजी छिड़ी हुई है जिसके कारण अमित शाह ने कंगना रनौत की वॉइस लेने की सुरक्षा देने का फैसला किया है। सूत्रों के मुताबिक बताया जा रहा है कि कुछ दिनों से देखा जा रहा है कि कंगना रनौत सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर बार-बार शिवसेना संजय रावत के बीच सोशल मीडिया पर बेजुबान बाते  देखने को मिल रही है। इस चीज को देखते हुए संजय रावत ने कहा अगर कंगना को मुंबई में डर लग रहा है तो वो आखिरकार मुंबई आई ही क्यों उन्हें मुंबई नहीं आना चाहिए।

Google Image

 कंगना ने अपने ट्वीट में कहा है कि  मैं हमेशा अमित शाह  की आभारी रहूंगी क्योंकि उन्होंने मेरे ऊपर खतरा को देखते हुए मेरे लिए सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था किया। अब मुझे पूरा विश्वास हो रहा है कि अब किसी भी  देशभक्त की आवाज को कोई भी कुचल नही सकता है।

कंगना रनौत  ने लिखा है कि  अमित शाह ने भारत की एक बेटी के मान सम्मान का ख्याल रखा और ऐसे हालात को देखते हुए भी उन्होंने  हमे मुंबई जाने की इजाजत दीया और साथ में मेरे सुरक्षा का भी अच्छा व्यवस्था करवा दिया।

 बताया जा रहा है कि कंगना रनैत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस के मामले में बहुत दिनों से  उ’द्धव ठाकरे सरकार और मुंबई पुलिस को घेरने में लगी रहती है । सुशांत सिंह सुसाइड केस को लेकर अभिनेत्री कंगना रनौत  मुंबई पुलिस पर आरोप पर आरोप लगाई जा रही है। जिसके कारण इन लोगों के बीच में हमेशा बहस बाजी छीङ ही जाती है।

मुंबई पुलिस कमिश्नर को अपने निशाने पर लेते हुए कंगना रनौत ने अपनी एक ट्वीट  मे कहा है  कि मुबंई पुलिस कमिश्नर ने ऐसे कुछ गलत बयान बाजी  की गई पोस्ट को लाइक किया है। इस  पोस्ट को देखते ही  मुंबई पुलिस और कंगना रनौत के बीच बस बाजी शुरू हो गई। इस चीज को देखते हुए शिवसेना के नेता संजय रावत ने बताया कि अगर कंगना रनौत को मुंबई पुलिस  और मुंबई में रहने में डर लग रहा है तो उन्हें यहां पर नहीं रहना चाहिए।

सूत्रों के अनुसार बताया जा रहा है कि इसके बाद  भी फिल्म अभिनेत्री कंगना रौनत ने  मुंबई को पाकिस्तान घोषित करने की कोशिश की थी। इसके बाद ही कंगना रौनत ने कई बार  शिवसेना और संजय राउत को निशाने  पर भी ली थी।

बताया जा रहा है कि कंगना ने अपने एक ट्वीट में भी कहा है कि किसी के बाप का नहीं है महाराष्ट्र उसी का है जिसने महाराष्ट्र का गौरव और प्रतिष्ठा दोनों को बचाया है। कंगना ने कहा कि मैं डंके की चोट पर ऐलान करती हूं कि मैं एक मराठी हूं जिसको जो उखाड़ना है  मेरा उखाड़ लो।  अब आपको बता दें कि कंगना के साथ  Y कैटेगरी सुरक्षा के तहत 11 सुरक्षाकर्मी कंगना के सुरक्षा के लिए 24 घंटे तैनात  भी किया जाऐगा ।