आज से देश भर में शुरू हुआ JEE Mains, 6 सितम्बर तक चलेगा.

तमाम विरोध के बावजूद आज देश भर में नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा JEE की परीक्षा आयोजित की जा रही है. छात्रों ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर सरकार से परीक्षा न कराने की अपील की थी. कई राजनीतिक दलों ने भी सरकार से मांग की थी कि कोरोना काल में छात्रों की सुरक्षा को ध्यान में रख कर परीक्षा को टाल देना चाहिए. मगर इन सब के बावजूद सरकार अपने फैसले पर कायम रही. कई राज्य सरकारों ने भी सरकार के फैसले के खिलाफ़ सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की मगर वहाँ से भी कोई राहत नही मिली.

JEE Mains की परीक्षा आयोजित करने वाली नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने छात्रों को भरोसा दिलाया है कि परीक्षा केन्द्रों पर छात्रों की सुरक्षा का भरपूर ध्यान रखा जायेगा. छात्रों के स्वास्थ के लिए NTA ने कई इंतज़ाम किये हैं. परीक्षा केन्द्रों पर छात्रों को एंट्री से पहले थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना होगा. जिन छात्रों का तापमान थर्मल स्क्रीनिंग में ज्यादा पाया जायेगा, उनके लिए एक अलग कमरे की व्यवस्था की गई होगी. छात्रों को पूरे परीक्षा के दौरान मास्क और दस्ताने पहनने होंगे. ये दोनों चीजे NTA मुहैया करवाएगी. परीक्षा केन्द्रों पर शारीरिक दुरी का भी पूरा ख्याल रखा जायेगा. हर पाली के बाद परीक्षा केन्द्रों को पूरी तरह सैनिटाईज किया जायेगा. हर बार की तरह इस बार परीक्षा केन्द्रों पर पीने के पानी की व्यवस्था नही होगी, छात्रों को अपने साथ बोतल लाना अनिवार्य होगा.

कोरोना काल में छात्र अपने परीक्षा केन्द्रों तक पहुँच सके इसके लिए भी कई राज्यों ने बड़े पैमाने पर तैयारी की है. मुंबई में छात्र परीक्षा केन्द्रों तक पहुँचने के लिए लोकल ट्रेन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. कई राज्य सरकारों ने फ्री यातायात के साधन भी मुहैया करवाएं हैं ताकि छात्र परीक्षा केन्द्रों तक पहुँच सकें. कोरोना काल में छात्र JEE की परीक्षा को टालने की मांग कर रहें थें मगर शिक्षा मंत्री ने यह कहते हुए मांग ख़ारिज कर दिया था कि लगभग 80% छात्रों ने JEE के लिए एडमिट कार्ड डाउनलोड कर लिया है. हालंकि छात्रों ने इस बात को लेकर भी कड़ा विरोध जताया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *